Rss

  • stumble
  • youtube
  • linkedin

मर्जी के बिना दीवारों पर लिखा- ‘मेरा घर, भाजपा का घर’ जानें क्या है मामला

स्थानीय लोगों का कहना है कि  ऐसा उनकी मर्ज़ी के ख़िलाफ़ किया गया है. बहुत से लोगों ने इसका विरोध भी किया लेकिन बीजेपी कार्यकर्ता नहीं माने.

खास बातें

  1. भोपाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आरोप
  2. स्थानीय नेताओं ने किया बचाव
  3. लोगों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को रोका भी था
  4. MP: भोपाल में BJP कार्यकर्ताओं ने घरों पर लिखा ‘मेरा घर, भाजपा का घर’, कांग्रेस ने बताया मनमानी

    भोपाल: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बीजेपी एक नया अभियान चला रही है. दूसरों के घर को अपना घर बता रही है. जी हां, बात चौंकानेवाली है लेकिन हकीकत यही है. भोपाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कई लोगों के घरों पर ही नहीं बल्कि कांग्रेस नेताओं के घर पर भी लिख दिया है. ‘मेरा घर, भाजपा का घर’.

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन से अभी बीजेपी सरकार उबर भी नहीं पाई है कि एक नया विवाद शुरू हो गया है. प्रदेश की राजधानी भोपाल के एक इलाके में कुछ बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आरोप है कि उन्होंने कुछ घरों के बाहर ‘मेरा घर, भाजपा का घर’ लिख दिया है. स्थानीय लोगों का कहना है कि  ऐसा उनकी मर्ज़ी के ख़िलाफ़ किया गया है. बहुत से लोगों ने इसका विरोध भी किया लेकिन बीजेपी कार्यकर्ता नहीं माने.

वहीं कुछ कांग्रेसी नेताओं के घरों और दुकानों के बाहर भी यह नारा लिखा गया है. वहीं जब बीजेपी के स्थानीय नेताओं से इस बारे में पूछा गया तो वह भी अपने कार्यकर्ताओं का बचाव करते नजर आए. उनका कहना है कि कार्यकर्ता उत्साह में ऐसी चीज़ें करते हैं, इसमें कुछ ग़लत नहीं है क्योंकि इलाक़े का विकास हुआ है. दूसरी ओर राज्य का शीर्ष नेतृत्व इस मामले पर चुप्पी साधे हुए है.

गौरतलब है कि मंदसोर में किसानों पर हुई फायरिंग की घटना के बाद राज्य की शिवराज सिंह चौहान विपक्षी नेताओं के निशाने पर है और उस दिन से राज्य में लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं. देखने वाली बात यह होगी कि बीजेपी कार्यकर्तओं की ओर से कथित तौर पर की गई इस हरकत पर क्या प्रतिक्रिया होती है. 

https://khabar.ndtv.com/news/india/bjp-workers-write-slogan-mera-ghar-bjp-ka-ghar-on-wall-of-houses-in-bhopal-1715498

Related posts

Comment (1)

  1. K SHESHU BABU

    The right wing politicians are violating rights of privacy of common people by forcefully writing on walls

Leave a Reply

%d bloggers like this: