delta

 

जैसा आपको विदित है की कुमारी डेल्टा मेघवाल, उम्र 17 वर्ष, जाति मेघवाल, निवासी त्रिमोही, तहसील गडरारोड़, जिला बाड़मेर की रहने वाली थी।उसके बाद वह ’शिक्षिका का प्रशिक्षण लेने नौखा, बीकानेर स्थिति जैन कन्या शिक्षण प्र’शिक्षण संस्थान आई, जहां वह BSTC की  द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। लेकिन प्रशिक्षण के दौरान ही जैन कन्या शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान, नोखा , बीकानेर में 29 मार्च 2016 को शिक्षक द्वारा डेल्टा के साथ बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गई।

राजस्थान के 8 संगठनों ने 4, 5, 6 अप्रैल 2016 को संयुक्त जांच दल गठित कर विस्तृत जांच कर तथ्यान्वेषण किया। जांच अभी भी जारी है। दल में निम्न संगठन के व्यक्ति थे-कविता श्रीवास्तव, पीपुल्स यूनियन फाॅर सिविल लिबर्टिज, राजस्थान (PUCL  ), सुमन देवठिया, अन्जू, मनीषा, आॅल इण्डिया दलित महिला अधिकार मंच (AIDMAM ), सुमित्रा चैपड़ा, अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति (AIDWA ), निशा सिद्धू, नेशनल फैडरेशन फाॅर इण्डियन वूमन (NFIW), तारा चन्द, हूमन राईटस लाॅ नेटवर्क (HRLN ), चेतरनराम, उरमूल ज्योति संस्थान, हंसराज, इन्सटीटयूट फाॅर जस्टिस पीस एण्ड हयूमन डवलपमेट व मंजू, विशाखा महिला एवं शोध संस्था एवं पी.यू.सी.एल. राजस्थान के 6 इन्टर्नस, सुष्मीता मीश्रा, राजेश्वरी फोगट, प्रिन्सी कुमारी, नीरज अहीरवार, आयुषी अग्रवाल, एश्वर्या पारासर।
8 अप्रैल को इस रपट का पहला ड्राफ्ट मीडिया के सामने प्रस्तुत किया। अन्य तथ्य इस दौरान  प्राप्त हुए जिन्हे जोड़ा
रिपोर्ट संलग्न है। Download the full eport

Related posts