A case of uninformed Vasectomy during the “Vasectomy Fortnight” being observed across the country.

A man who required a hydrocele operation was made to sign on the form for vasectomy by the ASHA worker without his knowledge.

After the operation the doctor informed him that he would never be able to father a child which came as a shock to him. He tried to check with the doctor by telling him that he had wanted a hydrocele operation but the doctor told him that he had signed on a consent form for vasectomy form and therefore that has been done.

मरीज हाइड्रोसील का, करने जा रहे थे नसबंदी

मरीज हाइड्रोसील का, करने जा रहे थे नसबंदी
demo picPC: अमर उजाला
संतकबीरनगर। संयुक्त जिला अस्पताल में भर्ती एक मरीज ने आशा कार्यकर्ता पर गलत तरीके से फार्म भरवाने का आरोप लगाया है। मरीज का आरोप है कि आशा कार्यकर्ता ने उससे हाइड्रोसील का ऑपरेशन कह कर जिला अस्पताल में भर्ती कराया। ऑपरेशन थियेटर में जब चिकित्सक ने उनसे कहा कि ऑपरेशन के बाद वह कभी पिता नहीं बना पाएगा तो मरीज ने बताया कि वह तो हाइड्रोसील का ऑपरेशन कराने आया है। इसपर चिकित्सक ने बताया कि उसने नसबंदी के लिए फार्म भरा है। मरीज का आरोप था कि आशा कार्यकर्ता ने उसको बिना बताए और उसकी बिना रजामंदी के नसबंदी का फार्म भरवा दिया और हस्ताक्षर भी करा लिया, जबकि उसने हाइड्रोसील का फार्म समझ कर हस्ताक्षर किया था। मरीज ने सीएमओ को पत्र देकर आशा पर कार्रवाई की मांग की है। सीएमओ डॉक्टर अभय चंद श्रीवास्तव ने बताया कि मामले की जांच अपर सीएमओ को दी गई है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/sant-kabir-nagar/151511459529-sant-kabir-nagar-news

Related posts